अमेरिकी गीतकार डिलन को मिला साहित्य का नोबल ।

0
364

अमेरिकी गायक बॉब डिलन को साहित्य के नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया है। गायिकी की दुनिया में शायद ऐसा पहली बार हुआ जब गायक को सबसे प्रतिष्ठित सांस्कृतिक पुरस्कार मिला है। इससे पहले कवियों को यह पुरस्कार मिला है। बॉब ने 1959 में पेशेवर तौर पर गाना शुरू किया और साल भर में ही उनके गाने नई पीढ़ी की आवाज बन गए।

उनके गाने ‘ब्लोइंड इन द विंड’, ‘मास्टर ऑफ वॉर’, ‘ए हार्ड रेन्स गोना फॉल’, ‘द टाइम्स दे आर चेंजिंग’, ‘सब टेरेनियन होमसिक ब्ल्यूज’, और ‘लाइक अ रोलिंग स्टोन’ में विद्रोह, असंतोष और स्वतंत्रता की भावना झलकती हैं, जिसे लोगों ने खूब पसंद किया। स्वीडिस अकादमी ने गुरुवार को यह कहते हुए ‘डिलन एक आदर्श व्यक्तित्व के इंसान हैं, उनका समकालीन संगीत में गहरा योगदान है,’ उन्हें नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया। डिलन आज भी गाने लिखते हैं और अक्सर टूर पर रहते हैं। स्वीडिश अकादमी के सदस्य पर वास्टबर्ग ने कहा कि वह शायद सबसे महान जीवित कवि हैं। नोबेल अकादमी की पर्मानेंट सचिव सारा डेनियस ने कहा कि डिलन को नोबेल से सम्मानित करने का फैसला सर्व सम्मति से लिया गया। इस वर्ष साहित्य में दिया गया यह नोबेल का आखिरी पुरस्कार है। नोबेल पुरस्कारों को डायनामाइट के आविष्कारक एलफ्रेड नोबेल के नाम 1901 से विज्ञान, साहित्य और शांति के क्षेत्र में दिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here