सूफियाना अंदाज़ में मंत्रमुग्ध करने की अद्भुत कला है डॉ संगीता गौड़ के पास।

0
385

हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत और सौंदर्यशास्त्र के बदलते मूल्यों पर पीएचडी करने वाली डॉ संगीता गौड़ बेहतरीन आवाज़ की जादूगर हैं और साथ ही साथ निपुण संगीत निर्देशिका भी हैं जिनके शौज पूरे विश्व भर में होते हैं। हाल ही सुरबहार म्यूज़िकल शो में उनके गाये “मन लागो मेरो यार फकीरी में” ने सबका मन मोह लिया ।
मानव संसाधन विकास मंत्रालय से फेललोशिप हासिल करने वाली आवाज की ये जादूगर थिएटर संगीत में भी उतनी ही सक्रिय रहतीं हैं।
फिलहाल वे अपने जीवनसाथी मशहूर थिएटर निर्देशक अरविंद गौड़ के साथ “अस्मिता थिएटर” के तत्वाधान में कार्यरत हैं और नाटकों में उनका दिया संगीत विश्वस्तर पर सराहा गया है।
उनके मुख्य नाटकों में गिरीश कर्नार्ड द्वारा लिखित तुग़लक, धरमवीर भारती का अंधा युग और स्वदेश दीपक का कोर्ट मार्शल जैसे नाटक शामिल हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here