“नाम शबाना” पर चली सेंसर की केंची ।

0
707
इसी महीने 31 तारीख को रिलीज हो रही ‘नाम शबाना’ एक महिला जासूस के जीवन की सच्ची कहानी पर आधारित फिल्म है। सेंसर बोर्ड ने फिल्म को सर्टिफिकेट देने से पहले इसमें तीन कट्स लगाए। बोर्ड की तरफ से निर्माताओं को फिल्म में तीन कट्स की शर्त पर इसे यू/ए (U/A) सर्टिफिकेट देने का प्रस्ताव दिया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार फिल्म के एक सीन पर आपत्ति जताते हुए सेंसर बोर्ड ने इसे महिला घरेलु हिंसा के तौर पर परिभाषित किया है। इस सीन में अभिनेत्री तापसी पन्नू की पीटते हुए दिखाया गया है।

एक दूसरे सीन में स्क्रीन पर एक शराब की बोतल को दिखाया गया है जिसे सेंसर बोर्ड ने हटाने को कहा है। तीसरा कट संता और बंता के एक जोक को लेकर है। इसे मनोरंजन के लिए किसी खास जाती वर्ग का मखौल का विषय बताते हुए हटाने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here