30 मार्च को राष्ट्रीय कवि सम्मलेन : महापौर ने लिया तैयारियों का जायजा

0
616

जयपुर। भारतीय नववर्ष और राजस्थान दिवस के अवसर पर जयपुर नगर निगम भारतीय नववर्ष चौत्रशुक्ल प्रतिपदा महोत्सव विक्रम संवत 2074 युगाब्द 5119 के स्वागत के लिए जयपुर के अल्बर्ट हॉल रामबाग में 30 मार्च को सायंकाल साढ़े छह बजे से नवोत्कर्ष राष्ट्रीय कवि सम्मलेन आयोजित करवाने जा रहा है। इसमें ख्याति प्राप्त कवियों द्वारा विभिन्न विषयों पर कविता पाठ किया जाएगा।

महापौर डॉ. अशोक लाहोटी ने बताया कि नव वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित कवि सम्मेलन में गाजियाबाद के ख्याति प्राप्त कवि कुमार विश्वास, दिल्ली से संतोष आनंद, अलवर से विनीत चौहान, मथुरा से पूनम वर्मा, जबलपुर से सुदीप भोला, रोहतक से अनिल अग्रवंशी एवम् जयपुर के पीके मस्त अपनी रचनाएं प्रस्तुत करेंगे। महापौर ने बताया कि नववर्ष के अवसर पर विभिन्न प्रकार के आयोजन करके नववर्ष के ऎतिहासिक महत्व, प्राकृतिक महत्व ,वैज्ञानिक महत्व एवम् भारतीय संविधान की भावना अनुसार सन्देश देकर हमारी पुरातन संस्कृति की नींव को मजबूत करना है एवम् नवोत्सव राष्ट्रीय कवि सम्मेलन भी इस प्रयास का हिस्सा है।

महापौर लाहोटी ने नव वर्ष के ऎतिहासिक महत्त्व को समझाते हुए बताया कि ब्रह्म पुराण के अनुसार पूर्णतः जल मग्न पृथ्वी में से सर्वप्रथम बाहर निकले भू भाग सुमेरु पर्वत पर एक अरब 97 करोड़ 29 लाख 49 हजार 118 वर्ष पूर्व इसी दिन के सूर्योदय से ब्रह्मा जी की ने सृष्टि की रचना आरम्भ की और मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का राज्याभिषेक, नवरात्र स्थापना, वरूणावतार झूलेलाल जन्म दिवस, दयानंद सरस्वती द्वारा आर्य समाज की स्थापना, विक्रमादित्य द्वारा विक्रमी संवत का प्रारम्भ, सम्राट युधिष्ठर का राज्याभिषेक, डॉ. हेडगेवार जन्म दिवस एवम् न्याय प्रणेता महर्षि गौत्तम का जन्म दिवस सहित अनेक प्रसंग आज के दिन का इतिहास है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here